Raghawendra Pandey

Rookie - 132 Points [Rahav] (10/02/1983 / Varanasi)

शहर में कुछ गाँव होते

शहर में कुछ गाँव होते, गाँव में कोई शहर होता
बैठते मिल बात करते, ऐसा कोई पहर होता

दोनों ही घर से निकलते, मिलके जी भर बात करते
ऐसा कोई ठौर होता, ऐसा कोई ठहर होता

तुम उसे पीकर बुझाती प्यास, उसमें डूबती भी
या ख़ुदा मैं दिल से निकली प्यार की वह लहर होता

[Report Error]