Ramdhari Singh Dinkar

(23 September 1908 – 24 April 1974 / Bihar / British India)

किसको नमन करूँ मैं भारत?


तुझको या तेरे नदीश, गिरि, वन को नमन करूँ, मैं ?
मेरे प्यारे देश ! देह या मन को नमन करूँ मैं ?
किसको नमन करूँ मैं भारत ? किसको नमन करूँ मैं ?

भू के मानचित्र पर अंकित त्रिभुज, यही क्या तू है ?
नर के नभश्चरण की दृढ़ कल्पना नहीं क्या तू है ?
भेदों का ज्ञाता, निगूढ़ताओं का चिर ज्ञानी है
मेरे प्यारे देश ! नहीं तू पत्थर है, पानी है
जड़ताओं में छिपे किसी चेतन को नमन करूँ मैं ?

भारत नहीं स्थान का वाचक, गुण विशेष नर का है
एक देश का नहीं, शील यह भूमंडल भर का है
जहाँ कहीं एकता अखंडित, जहाँ प्रेम का स्वर है
देश-देश में वहाँ खड़ा भारत जीवित भास्कर है
निखिल विश्व को जन्मभूमि-वंदन को नमन करूँ मैं !

खंडित है यह मही शैल से, सरिता से सागर से
पर, जब भी दो हाथ निकल मिलते आ द्वीपांतर से
तब खाई को पाट शून्य में महामोद मचता है
दो द्वीपों के बीच सेतु यह भारत ही रचता है
मंगलमय यह महासेतु-बंधन को नमन करूँ मैं !

दो हृदय के तार जहाँ भी जो जन जोड़ रहे हैं
मित्र-भाव की ओर विश्व की गति को मोड़ रहे हैं
घोल रहे हैं जो जीवन-सरिता में प्रेम-रसायन
खोर रहे हैं देश-देश के बीच मुँदे वातायन
आत्मबंधु कहकर ऐसे जन-जन को नमन करूँ मैं !

उठे जहाँ भी घोष शांति का, भारत, स्वर तेरा है
धर्म-दीप हो जिसके भी कर में वह नर तेरा है
तेरा है वह वीर, सत्य पर जो अड़ने आता है
किसी न्याय के लिए प्राण अर्पित करने जाता है
मानवता के इस ललाट-वंदन को नमन करूँ मैं !

Submitted: Sunday, April 01, 2012
Edited: Monday, April 02, 2012

Do you like this poem?
26 person liked.
5 person did not like.

Read this poem in other languages

This poem has not been translated into any other language yet.

I would like to translate this poem »

word flags

What do you think this poem is about?

Comments about this poem (किसको नमन करूँ मैं भारत? by Ramdhari Singh Dinkar )

Enter the verification code :

  • Rookie - 0 Points Bharat Mehru (8/11/2013 8:22:00 AM)

    Mahakavi,
    Tere kathy, tere dev swar ko, uddhat vishal mahaman ko,
    savinay saadar sang Bharat Maa ke naman karu tujhko . (Report) Reply

Read all 1 comments »

Trending Poets

Trending Poems

  1. If, Rudyard Kipling
  2. If You Forget Me, Pablo Neruda
  3. Still I Rise, Maya Angelou
  4. Do Not Go Gentle Into That Good Night, Dylan Thomas
  5. The Road Not Taken, Robert Frost
  6. Dreams, Langston Hughes
  7. Daffodils, William Wordsworth
  8. Invictus, William Ernest Henley
  9. Stopping by Woods on a Snowy Evening, Robert Frost
  10. Your Laughter, Pablo Neruda

Poem of the Day

poet Alfred Edward Housman

The time you won your town the race
We chaired you through the market-place;
Man and boy stood cheering by,
And home we brought you shoulder-high.

...... Read complete »

   

Member Poem

New Poems

  1. Word, Birgitta Heikka
  2. Ganjaraja And His Associates/Ganjaraja W.., Bijay Kant Dubey
  3. Royal Presidio Chapel, Monterey California, Steven Federle
  4. the apple of my I, Prophmatt . . .
  5. And Then There Was Love, Sandra Feldman
  6. Sigh, Erwick Brandon
  7. Marwari Businessman Father-in-law Want I.., Bijay Kant Dubey
  8. Happiness is not preventive., Rm.Shanmugam Chettiar.
  9. Fatal Attraction, Sandra Feldman
  10. Be a finger of the hand., Rm.Shanmugam Chettiar.
[Hata Bildir]