Treasure Island

Shashikant Nishant Sharma

(03 September,1988 / Sonepur, Saran, Bihar, India)

Poems of Shashikant Nishant Sharma

401. ये मौसम का चक्र है 10/12/2012
402. ये लड़की नहीं पॉवर प्लांट है 10/12/2012
403. ये सारी दुनिया 3/7/2013
404. यादें 10/12/2012
405. याद करके खवाबों में बुलाया न करो 5/3/2012
406. रझा बंधन 3/30/2013
407. रहते है एक ही बस्ती में 3/7/2013
408. राजनितिक पार्टियाँ 10/12/2012
409. राष्ट्र की असल शक्ति जवानों की देश भक्ति 3/25/2013
410. राष्ट्रीयता का गान 10/12/2012
411. रोटी का टुकड़ा 3/30/2013
412. लुढ़क ही रहे है... 3/7/2013
413. लौ नहीं चराग में 2/20/2013
414. लौ नहीं चराग में 3/7/2013
415. वे अर्धनंग है अश्लील है 4/11/2013
416. वृक्ष लगाओ वृक्ष लगाओ 10/12/2012
417. वर्षा रानी की कहानी 10/12/2012
418. वसंत का प्रभाव 12/24/2012
419. वसंत का प्रभाव 1/29/2013
420. वसंत का प्रभाव 2/28/2013

तेरी पलकें झुकीं झुकीं

तेरी पलकें झुकी झुकी जो उठती है
कोई जादू सा असर हमपे करती है
क्या बताएं तू कैसी लगती है
जान तू जानशीन लगती है
तेरी बातों में न जाने कैसा जादू है
मेरी दिल को तेरी ही आरजू है
तेरी तिरछी झुकी नजरों का समां है
तेरी मदभरी ओठें जाम छलकती है
कोई जादू सा...

[Hata Bildir]