hasmukh amathalal

Gold Star - 24,184 Points (17/05/1947 / Vadali, Dist: - sabarkantha, Gujarat, India)

हम क्यों ज्यादा आग्रही और हठी है ham kyo


हम क्यों ज्यादा आग्रही और हठी है

मेरे चमन के फूलो, क्या हो गया है आपको?
देश का सुकान सम्हालना है आपको?
क्यों आप खेल रहे हो किसी का खिलोना बनकर?
आपने करना है कायाकल्प समय आने पर

साठ साल आपने सहे है झुलम सेहमे होकर
दे दीजिये थोड़ा समय कुछ ओर सोच कर
ये कोई मामूली इम्तेहान नहीं है
आपने देश की रखवाली करनी है।

आपने कहा वो सच सच है
समय का सब को घ्यान है
बड़ी मुश्किल से सरकार पाँव जमा रही है
आप कुछ समय तो दे, वो सोच तो रही है।

आप क्यों अड़े है अपनी मांगो पर?
जब भरोसा दिया गया है सोचने पर
आप ऐसा कुछ भी ना करे जिसे लोग परेशान हो
आम नागरिक परेशान हो और ज्यादा हैरान हो।

मेहनत आपने करनी है
कौशल आपने दिखक्ना नै
कुछ मापदंड ही जिसे सरल बनाने की लड़त होनी चाहिए
ना की उसकी नाबुदी पर और मजबूत बनानी चाहिए।

आप यौवन धन हो और देश को बनाना है
कुछ सोच भी बदलनी है और अपनाना है
'कई लोग काबिल और सक्षम है
उन्हें भी अपने मकाम पहुंचाना है

कई राजकीय पार्टियां बेकाम हो चुकी है
उनके पास अब विरोध के कुछ नहीं है
बस देश जलता रहे, आग लगी रहे
युवा लोग सरेआम आगजनी करते रहें।

समस्या का हल आना ही है
हम सबने मुस्कुराना है
आप सोचे और समझे
बिना बात कभी ना उलझे।

देश है तो हम है
हम है तो अवाम है
जला दो वो भी अपना है
सम्हालो वो भी गरीब का है

कर लो विचार आने वाले कल के लिए
हमें देश को आगे बढ़ाना है गरीब के लिए
आजकल मौसम रूठा है, कुदरत रूठी है
तो फिर हम क्यों ज्यादा आग्रही और हठी है

Submitted: Thursday, July 31, 2014
Edited: Friday, August 01, 2014

Topic of this poem: poem

Form:


Do you like this poem?
0 person liked.
0 person did not like.

Read this poem in other languages

This poem has not been translated into any other language yet.

I would like to translate this poem »

word flags

What do you think this poem is about?

Comments about this poem (हम क्यों ज्यादा आग्रही और हठी है ham kyo by hasmukh amathalal )

Enter the verification code :

Read all 6 comments »

Trending Poets

Trending Poems

  1. Dreams, Langston Hughes
  2. The Road Not Taken, Robert Frost
  3. Still I Rise, Maya Angelou
  4. Mother to Son, Langston Hughes
  5. I, Too, Langston Hughes
  6. As I Grew Older, Langston Hughes
  7. If, Rudyard Kipling
  8. Phenomenal Woman, Maya Angelou
  9. [®XLIX~]Watch Super Bowl 2015 (49) Live.., Renz Barns
  10. I Know Why The Caged Bird Sings, Maya Angelou

Poem of the Day

THE CHANCELLOR mused as he nibbled his pen
(Sure no Minister ever looked wiser),
And said, “I can summon a million of men
To fight for their country and Kaiser;

...... Read complete »

   

Member Poem

New Poems

  1. Vibrant Liberation, RoseAnn V. Shawiak
  2. Fear of the society, Rm.Shanmugam Chettiar.
  3. from..., Morgan Michaels
  4. Ebony Sadness Of Grief, RoseAnn V. Shawiak
  5. Comes only once, hasmukh amathalal
  6. Giving Entire Being, RoseAnn V. Shawiak
  7. Poetry Of This Night, RoseAnn V. Shawiak
  8. Poetry Is Scrapbooking, Dexsta Ray
  9. Avoid The Android, Erhard Hans Josef Lang
  10. So To Differentiate (False Humility), Dexsta Ray
[Hata Bildir]