hasmukh amathalal

Gold Star - 19,895 Points (17/05/1947 / Vadali, Dist: - sabarkantha, Gujarat, India)

' प्यार में कोई खिलवाड़ नहीं'pyaar me koi


' प्यार में कोई खिलवाड़ नहीं'

हमने सजाये थे सपने
वो हो गए साकार ओर अपने
अब कोई गैरत नहीं, किल्लत नहीं
अब तो बढ़ गयी है, हमारी हिम्मत यहीं

खेर अब ग़मग़ीनी कोई नहीं
गिला और शिकवा भी कोई नहीं
बसर कर लेंगे यादोें के सहारे जिंदगी
कुछ तो असर करेगी हमारी ये बंदगी

खेर प्यार हमने किया
उसको तस्लीम आपने किया
कारवां आगे जरूर बढ़ेगा
वो कभी किसी की भेंट नहीं चढ़ेगा।

खेर मनाओ सनम हम सीधे सादे है
इरादे के मुताबिक़ और वचन के पक्के है
कहीं उलटे मुंह ना गिर जाओ, याद रखना
सीखना, सोचना, बोलना और फिर परखना

हमने खूब सहा और सराहा भी
आप ने भी उडा दी बात, और लगाया ठहाका भी
हमने कहा 'हम वादे के पक्के है पर कमजोर नहीं '
प्यार पर किसी की जोहुक्मी और वो शिरमौर नहीं

प्यार में झुका कोई नहीं पर सर से फरमाया
अपने आप में उमड़ा और सैलाब उभर आया
हमने भर दी हामी और आपने शुक्रिया अदा किया
हमने भी पलके झुका दी और प्यार से सजदा किया।

हमें तो कह रहे हो 'प्यार को ना करो बदनाम '
प्यार करकर भी रह सक्तो हो गुमनाम
'उसका अपमान' अपने को बताना है कायर
प्यार को तस्लीम करना ओर अपने को दिखाना शायर।

खेर! प्यार सब को चाहिए अपनी ख़ुशी के लिए
सब को दिखाने और जीवन साथी होने के लिए
अनबन हो तो कोई बात नहीं पर 'लडालड़ ' कभी नहीं
ख़याल बस इतना रहे ' प्यार में कोई खिलवाड़ नहीं'

Submitted: Saturday, July 19, 2014

Topic of this poem: poem


Do you like this poem?
0 person liked.
0 person did not like.

Read this poem in other languages

This poem has not been translated into any other language yet.

I would like to translate this poem »

word flags

What do you think this poem is about?

Comments about this poem (' प्यार में कोई खिलवाड़ नहीं'pyaar me koi by hasmukh amathalal )

Enter the verification code :

  • Bronze Star - 5,319 Points Geetha Jayakumar (7/19/2014 10:57:00 AM)

    Aapki kavita bahuth pyaari hai. Pyaar mein koi khilvaad nahin. Vachan kay puckey hain hum per kamjor nahin hain hum....Beautiful poem and I loved reading each lines.... (Report) Reply

Read all 2 comments »

Trending Poets

Trending Poems

  1. The Road Not Taken, Robert Frost
  2. Invictus, William Ernest Henley
  3. Still I Rise, Maya Angelou
  4. Do Not Go Gentle Into That Good Night, Dylan Thomas
  5. If, Rudyard Kipling
  6. If You Forget Me, Pablo Neruda
  7. As I Grew Older, Langston Hughes
  8. Stopping by Woods on a Snowy Evening, Robert Frost
  9. Taking Off Emily Dickinson's Clothes, Billy Collins
  10. Fire and Ice, Robert Frost

Poem of the Day

poet Alfred Edward Housman

The time you won your town the race
We chaired you through the market-place;
Man and boy stood cheering by,
And home we brought you shoulder-high.

...... Read complete »

   

Member Poem

New Poems

  1. Be careful child before you fall, Mark Heathcote
  2. have it your way homeboy, Mandolyn ...
  3. Advance New Year 2015 Wishes (in a pessi.., Dr John Celes
  4. B. Day, Nassy Fesharaki
  5. shape shift this, my fearless phantom, Mandolyn ...
  6. Dear Dad ..... [a PARODY; HUMOR; SHORT; .., Bri Edwards
  7. Just Sex..., Frank James Ryan Jr...FjR
  8. It's Not About Science, Just Satellites..., Frank James Ryan Jr...FjR
  9. Woman And Time..., Frank James Ryan Jr...FjR
  10. Firmament, Margaret Ann Newcomb
[Hata Bildir]